Author: KahaniAZ

Bathroom Bhoot Ki Kahani

बाथरूम में कौन है | Bhoot Ki Kahani

ये बात उस समय की है जब एक नया शादीशुदा कपल स्नेहा और प्रणय अपनी वीकेंड आउटिंग के लिए लुनावला जा रहे थे। रास्ते में बहुत तेज बारिस शुरू हो गयी और उनकी कार एक गड्ढे में फंस गयी। जब उन्होंने कार से उतरकर देखा तो कार के  इंजन में ...

Hospital Bhoot Ki Kahani

भूतिया हॉस्पिटल | Bhoot Ki Kahani

हॉस्पिटल एक ऐसी जगह है जहां पर हम बिमारी के वक्त ये सोचकर जाते है कि डॉक्टर कुछ ना कुछ इलाज जरुरु कर देंगे। लेकिन एक हॉस्पिटल किसी डॉक्टर के लिए भूतिया जगह बन सकता है ये कौन सोच सकता है। आज की कहानी ऐसे ही हैदराबाद में हुई सच्ची...

Shapit Ghar ke Bhoot Ki Kahani

एक शापित घर का भूत | Bhoot Ki Kahani

हेमा अपने बेटे मैथरू, उसकी पार्टनर जेनिफर और अपनी बेटी सुजैन के साथ एक नए घर में शिफ्ट हुई थी। जिसने ये घर बेचा था वो इस घर को छोड़कर भागने की जल्दी में था इसलिए उसे वो घर काफी सस्ते में मिल गया। हेमा जैसे ही उस घर में...

Rikshaw Wali Chudail Ki Kahani

रिक्शा वाली चुड़ैल | Chudail Ki Kahani

एक दिन रामलाल नाम का रिक्शा वाला आधी रात को एक सुनसान सड़क से अपने घर जा रहा था। तभी अचानक उसे एक ख़ूबसूरत लड़की सड़क के किनारे खड़ी दिखाई देती है। रामलाल रिक्शा को उस लड़की की तरफ मोड़ लेता है और उस से जाकर पूछता है की तुम...

Billi Mausi Ki Kahani

बिल्ली मौसी की कहानी | Hindi Story for Kids

एक दिन बारिस के मौसम में बिल्ली मौसी मोर को नाचते हुए देखती है और सोचती है और सोचती है कि मोर नाचते हुए कितना अच्छा लग रहा है। काश मैं भी बारिश में भीग पाती और बारिस का आनंद ले पाती। बिल्ली जिस पेड़ के निचे खड़ी थी उस...

Delhi University Bhoot Ki Kahani

दिल्ली यूनिवर्सिटी में भूत है | Bhoot Ki Kahani

ये कहानी 17 साल के जिगर नाम के लड़के के साथ हुए एक हादसे की है। बहुत मेहनतो के बाद जिगर का एडमिशन दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक कॉलेज में हुआ था और वो बहुत खुश था।   वो पहली बार अपने गाँव से दिल्ली शहर आया था। उसके लिए वहां सब...

Moral Story in Hindi

टिकटोक बना जान का दुश्मन | Moral Stories in Hindi

एक बार एक गाँव में सैम नाम का एक मोटा लड़का रहता था। सैम हमेशा फ़ोन पर टिकटोक बनता रहता था। जब वो टिकटोक बनता था तो मानो पूरे गाँव में भूकंप आ जाता था और सारे गाँव वाले डर जाते थे। वो कभी किसी का हाथ कुचल देता था...

Pyaaz Wali Chudail Ki Kahani

प्याज वाली चुड़ैल | Chudail Ki Kahani

ये बात साल 2005 की है। दिल्ली और दिल्ली के आसपास के इलाके में एक अफवाह फैलने लगी थी जिसे सुनकर लोग घबरा उठे थे। अक्सर राजस्थान के बालाजी मंदिर में चुड़ैलों को बोत्तलो में बंद करके रखा जाता है। लेकिन उस समय वहाँ से तीन बोतल गायब हो गयी...

School Library - Bhoot Ki Kahani

स्कूल लाइब्रेरी | Bhoot Ki Kahani

वैसे तो स्कूल को शिक्षा का मंदिर कहा जाता है। लेकिन सोचिये की अगर उसी मंदिर में किसी भूत या प्रेत का साया हो तो वहाँ पर पढ़ने वाले बच्चो पर क्या बीतती होगी। आज हम आपको ऐसी ही एक कहानी सुनाने जा रहे है। [ आप पढ़ रहे है...

Judwa Pariyon Ki Kahani

जुड़वाँ परियां | Pariyon Ki Kahani

एक बार परीलोक में एक अद्भुत करिश्मा हुआ। नीलम पारी के घर दो जुड़वाँ बच्चियाँ पैदा हुई। दोनों लाल और नीले पंखो के साथ पैदा हुई थी। आज तक परीलोक में ऐसा नहीं हुआ था। दोनों बच्चे स्वस्थ और ख़ूबसूरत थे लेकिन उनका शरीर दाहिनी और से आपस में जुड़ा...

Pyasi Chudail Ki Kahani

प्यासी चुड़ैल | Chudail Ki Kahani

ये कहानी भगतपुर गाँव की है। कुछ साल पहले इस गाँव में चुड़ैल रहती थी और उसके शिकार करने का तरीका बहुत ही अलग था। जब भी गाँव के पास के जंगल से कोई गुजरता था तो वो चुड़ैल उसके सामने आ जाती थी। जैसे ही वो आदमी इसकी आँखों...

Jadui Lipstick Ki Jadui Kahani

जादुई लिपस्टिक | Jadui Kahani

कई साल पहले एक औरत अपनी दो जुड़वाँ बेटियों के साथ रहती थी। एक का नाम नेहा और एक का नाम स्नेहा था। जुड़वाँ होने के बावजूद दोनों क स्वाभाव बिलकुल अलग अलग थे। नेहा बोहोत खूबसूरत और घमंडी थी। उसे अपनी खूबसूरती पर बहुत घमंड था। [ आप पढ़...

Ladki Ki Ijjat Ke Pyase Bhoot Ki Kahani

लड़की की इज्जत के प्यासे | Bhoot Ki Kahani

एक गाँव में एक ज़ोया नाम की लड़की रहती थी। वो बहुत ही ख़ूबसूरत और हसीन थी। मगर गाँव वालो से सुनने में आया है की उस लड़की पर किसी चुड़ैल का साया है। और ज़ोया पर चुड़ैल का साया होने की वजह से गाँव वाले उसके दूर दूर रहते...

Moral Story In Hindi

टिकटोक की खौफनाक दुनिया | Moral Stories in Hindi

किसी शहर में ख़ुशी नाम की एक 12 साल की बच्ची अपनी माँ सुमन और अपने पिता अजय के साथ रहती थी। ख़ुशी काफी शैतान बच्ची थी। वो काफी ज़िद्दी भी थी। उसे जो चीज चाहिए थी वो लेकर ही रहती थी। चाहे उसे कुछ भी करना पड जाए। हमेशा...