बाथरूम में कौन है | Bhoot Ki Kahani

Bathroom Bhoot Ki Kahani
Bathroom Bhoot Ki Kahani

ये बात उस समय की है जब एक नया शादीशुदा कपल स्नेहा और प्रणय अपनी वीकेंड आउटिंग के लिए लुनावला जा रहे थे। रास्ते में बहुत तेज बारिस शुरू हो गयी और उनकी कार एक गड्ढे में फंस गयी। जब उन्होंने कार से उतरकर देखा तो कार के  इंजन में  कचरा फंस गया था।


उन्होंने बहुत कोशिस की लेकिन वो कार को स्टार्ट ही नहीं कर पा रहे थे। हाईवे के पास ही एक पुराना सा कॉटेज था। बहुत रात हो चुकी थी और बारिस भी रुकने का नाम नहीं ले रही थी। तो उन्होंने सोचा की वो आज रात उस कॉटेज में रुक जाएंगे और कल सुबह  कार ठीक करवाकर घर चले जाएंगे। आप पढ़ रहे है Bathroom Bhoot Ki Kahani


बारिस की वजह से उन दोनों के शरीर पर काफी कीचड लग गया था। जब उन्हें कमरा मिला तो  उन्होंने देखा कि बाथरूम का नल काम नहीं कर रहा था। उन्होंने कई बार रिसेप्शन पर फ़ोन लगाया पर किसी ने फ़ोन नहीं उठाया। प्रणय गुस्से में आकर रिसेप्शन पर गया तो उसने देखा कि रिसेप्शनिस्ट ईरफ़ोन लगाकर मोबाइल पर कुछ देख रहा था। उसने उसके हाथ से फ़ोन छीन लिया और उसे सुनाने लगा। 


इधर प्रणय रिसेप्शनिस्ट पर चिल्ला ही रहा था कि उसकी पत्नी स्नेहा को शॉवर से पानी गिरने की आवाज आने लगी। जब वो बाथरूम में गयी तो शॉवर से पानी आ रहा था। उसने सोचा की समस्या का समाधान हो गया है इसलिए उसने बाथरूम का दरवाजा बंद कर लिया और नहाने लगी। आप पढ़ रहे है Bathroom Bhoot Ki Kahani


थोड़ी देर बाद उसे कमरे के मेन डोर के खुलने की आवाज आयी। उसे लगा की प्रणय आ गया है। फिर उसके बाथरूम के दरवाजे पर ठक-ठक होने लगी। उसने सोचा की प्रणय दरवाजा बजा रहा है। उसने बोला कि मैं नहा रही हूँ लेकिन वो आवाज बंद होने की बजाय और तेज हो गयी। स्नेहा  को लगा की शायद शॉवर की आवाज की वजह से उसकी आवाज बहार नहीं जा रही है। तो वो शावर बंद करने लगी। लेकिन जब उसने शॉवर बंद करना चाहा तो वो बंद नहीं हुआ 


अचानक से शॉवर से निकलता हुआ पानी काले रंग के पानी में बदल गया। ये देखकर स्नेहा डर गयी और उसने टॉवल लपेट लिया। वो अभी एक ओर खड़ी ही हुई थी कि उसने देखा की शॉवर से निकलते हुए काले पानी ने एक भयानक परछाई का रूप ले लिया है। ये देखकर वो जोर से चिल्लाई। आप पढ़ रहे है Bathroom Bhoot Ki Kahani


उसकी चीख सुनकर प्रणय वहां पर आ गया और उसने देखा की बाथरूम का दरवाजा खुला पड़ा है और और स्नेहा एक कोने में बेहोश पड़ी है। इसके साथ उसने देखा कि बाथ टब के पास एक चाक़ू पड़ा था। उसने वो चाकू हाथ में उठा लिया। ये देखते हुए उसका ध्यान शीशे पर गया तो उसे अपने रूप में एक भयानक चेहरा दिखाई दिया। उस चेहरे को देखकर वो चिल्ला उठा और डर के मारे लाल हो गया और उसके हाथ से चाकू छूट गया। 


जैसे ही उसने दोबारा शीशे में देखा तो वो चेहरा गायब हो गया। उसने जल्दी से स्नेहा और उठाया और उसे कमरे में लेकर गया। जब स्नेहा को होश आया तो उसने उसे सारी बात बताई। उन दोनों ने उसी रात गाडी बुलवाई और उस कॉटेज से निकल गए। उन्हें आज तक समझ नहीं आया कि उस रात उनके साथ क्या हुआ था। क्या कोई मर्डरर या रेपिस्ट था, या कोई भूत उन्हें सता रहा था। आप पढ़ रहे है Bathroom Bhoot Ki Kahani


आपको हमारी ये कहानी कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएं 


Story By : Khooni Monday

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *