प्यासी चुड़ैल | Chudail Ki Kahani

Pyasi Chudail Ki Kahani
Pyasi Chudail Ki Kahani

ये कहानी भगतपुर गाँव की है। कुछ साल पहले इस गाँव में चुड़ैल रहती थी और उसके शिकार करने का तरीका बहुत ही अलग था। जब भी गाँव के पास के जंगल से कोई गुजरता था तो वो चुड़ैल उसके सामने आ जाती थी। जैसे ही वो आदमी इसकी आँखों में देखता तो वो चुड़ैल उसे अपने वश में कर लेती थी। फिर वो शक्स अपने आप ही उसके साथ उसकी गुफा में चला जाता था। वह जाने के बाद वो चुड़ैल उसे मारकर उसका सारा खून पी जाती थी। [ आप पढ़ रहे है Pyasi Chudail Ki Kahani ]

जब गाँव वालो को पता चला की यहाँ पर चुड़ैल का साया है तो उन्होंने जंगल के रास्ते पर ही जाना बंद कर फिया। अब वो चुड़ैल खून की प्यासी रहने लगी और मन ही मन सोचती कि अगर इस जंगल में एक बार कोई आ जाए तो मैं उसे बहुत ही दर्दनाक मौत दूंगी। इसी दौरान अशोक नाम का एक आदमी आकर रहने लगा। क्योंकि अशोक गाँव में नया था तो उसे इस बात का पता नहीं था कि जंगल के रास्ते पर जाना मौत को निमंत्रण देने के बराबर है।

अशोक घूमने के लिए पैदल चलते चलते जंगल में आ पहुँचता है। चुड़ैल उसके पैरो की आहट को सुन लेती है और बहुत खुश होती है। चुड़ैल उसकी तरफ चल पड़ती है। अशोक की नजर जैसे ही अपनी तरफ आती हुई भयानक चुड़ैल पर पड़ती है तो वो बहुत ही डर जाता है और अपनी आँखों को बंद कर लेता है। कुछ ही समय में चुड़ैल उसके बिलकुल पास आ जाती है लेकिन वो अपनी आँख नहीं खोलता। [ आप पढ़ रहे है Pyasi Chudail Ki Kahani ]

उसकी आँखे बंद होने की वजह से चुड़ैल उसको अपने वश में नहीं कर पाती। फिर चुड़ैल उसकी आँखे खुलवाने के लिए अलग अलग आवाज में उसका नाम पुकारती है। लेकिन अशोक आँखे बिलकुल नहीं खोलता। अशोक मन ही मन इस बात का अंदाजा लगा लेता है की अगर मैं अपनी आँखे नहीं खोलूंगा तो चुड़ैल मेरा कुछ नहीं कर सकती। फिर वो अपनी आँखे झुकाकर खोलता है और निचे देखते हुए ही वहाँ से चल पड़ता है। चुड़ैल ये सब देखती ही रह जाती है क्योंकि नजर ना मिल पाने के कारण को अशोक को अपने वश में नहीं कर पाती।

इधर अशोक को जंगल की तरफ से आता देख गाँव वाले उसको बोलते है कि क्या तुम्हे पता नहीं कि जंगल के रास्ते जाना मना है, यहाँ एक चुड़ैल रहती है। ये सुनकर अशोक कहता है कि मैं किसी चुड़ैल से नहीं डरता, मुझे रास्ते में वो चुड़ैल मिली भी थी और मैंने उसे इतना मारा कि वो डर के मारे जंगल से भाग गयी। उसकी झूठी बातो पर गाँव वालो को विस्वास नहीं हुआ। वो सोचने लगे कि ये चुड़ैल से बचकर वापस कैसे आ गया ?[ आप पढ़ रहे है Pyasi Chudail Ki Kahani ]

इधर शिकार हाथ से छूट जाने की वजह से चुड़ैल और भी परेशान हो गयी। वो सोचने लगी कि अबकी बार खून पीने के लिए कोई नयी तरकीब लगानी पड़ेगी। फिर एक दिन अशोक फिर से ये सोचकर जंगल के तरफ निकल पड़ा कि अगर चुड़ैल आ गयी तो मैं उसकी आँखों में नहीं देखूंगा। गाँव वालो ने उसे रोका तो वो बोला की तुम सब यहीं पर मेरा इंतज़ार करना मैं यूं गया और यूं आया।

चलते चलते वो जंगल में काफी दूर निकल गया। कुछ दूर और चलने के बाद चुड़ैल ने उसकी आवाज सुनी और उसका खून पीने निकल पड़ी। अशोक को अपने पीछे से कुछ आवाज सुनाई दी और उसने पीछे मुड़कर देखा। जैसे ही उसने पीछे देखा उसको एक खूबसूरत लड़की बिना कपड़ो के दिखाई दी। अशोक उसको देखता ही रह गया। वो वही चुड़ैल थी जोकि एक लड़की का रूप बनाकर आई थी। जैसे ही अशोक ने उसकी आँखों में देखा वो उसके वश में हो गया और उसके साथ गुफा में चला गया। वो चुड़ैल उसका सारा खून पी गयी। इधर गाँव वाले उसका इंतजार करते ही रह गए। [ आप पढ़ रहे है Pyasi Chudail Ki Kahani ]


Story By – Dark Horror Stories Animated 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *